इलाहाबाद यूनिवर्सिटी: वीसी के इस्तीफे की मांग को लेकर आंदोलन , पुलिस ने दो दर्जन छात्रों को हिरासत में लिया

Hits: 6

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :-  इलाहाबाद : उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में वीसी प्रॉ. रतन लाल हंगलू पर लगे आरोपों की जांच कमिटी से क्लीन चिट मिलने के बाद भी बवाल कम नहीं हो रहा है। वीसी के बुधवार को चार्ज लेने के बाद गुरूवार को ऑफिस पहुंचे। उनके ऑफिस पहुंचते ही छात्र नेताओं ने हंगामा शुरू कर दिया। यूनिवर्सिटी परिसर में वीसी के खिलाफ वॉल राइटिंग की गई। इसके साथ ही नेताओं ने वीसी कार्यालय के बाहर धरना दिया और नारेबाजी की। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने दो दर्जन छात्रनेताओं को हिरासत में लिया और बाद में उन्हें रिहा कर दिया। बता दें कि वीसी के एक महिला से वार्तालाप का ऑडियो वायरल होने के बाद माहौल गर्म हो गया था। वीसी के इस्तीफे की मांग को लेकर छात्रनेता लगातार आंदोलन कर रहे थे। इसे देखते हुए वीसी छुट्टी पर चले गए और कार्यवाहक वीसी ने मामले की जांच जस्टिस रिटायर्ड अरूण टंडन की कमिटी को सौंप दी। कमिटी ने अपनी जांच रिपोर्ट में वीसी को क्लीन चिट दे दी है।

क्लीन चिट मिलने के बाद बुधवार को वीसी चार्ज लेने यूनिवर्सिटी पहुंच गए। इसकी जानकारी मिलने के बाद गुरूवार को दर्जनों की संख्या में छात्र-छात्राएं वीसी कार्यालय के बाहर पहुंच गए और नारेबाजी करने लगे। यूनिवर्सिटी के सुरक्षा कर्मियों ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो सभी वहीं धरने पर बैठ गए। हंगामे के कारण वीसी अपने कार्यालय में ही बंद रहे। बाद में पुलिस पहुंची और दो दर्जन छात्रनेताओं को हिरासत में लेकर पुलिस लाइंस ले गई, जहां से तीन घंटे बाद उन्हें रिहा कर दिया गया। वहीं, यूनिवर्सिटी परिसर की कई दीवारों पर छात्रों ने वीसी के खिलाफ वॉल राइटिंग की। बाद में यूनिवर्सिटी के कर्मचारियों ने पेंट की मदद से राइटिंग को हटाया। वीसी के मामले को लेकर तनाव अब भी कायम है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here