अमेरिका के नेवी सील अधिकारी ने कैदी बच्चे को मारी गोली, बताया ISIS का कचरा

जनता से रिश्ता वेबडेस्क:- अमेरिका के नेवी सील के दो पूर्व कर्मियों ने युद्ध अपराध संबंधी एक मामले की सुनवाई के दौरान कहा कि उनके एक अधिकारी ने इस्लामिक स्टेट के करीब 12 साल के एक घायल कैदी की गर्दन पर चाकू से वार किया और उसकी हत्या के बाद मजाक उड़ाने के अंदाज में कहा कि बालक ‘‘आईएसआईएस का कचड़ा’’ था.डायलैन डिले और क्रेग मिलर ने युद्ध अपराध के आरोप झेल रहे स्पेशल ऑपरेशन्स चीफ एड्वर्ड गैल्लाघेर के खिलाफ सुनवाई के दूसरे दिन यह बात कही. गैलाघेर ने 2017 में इराक में ड्यूटी पर तैनाती के दौरान हत्या करने और हत्या की कोशिश के मामलों में स्वयं को बेकसूर बताया है.डिले ने बताया कि जब तीन मई 2017 को एक रेडियो कॉल में एक कैदी के घायल होने की घोषणा की गई तो गैलाघेर ने उत्तर दिया, ‘‘इसे मत छुओ, यह मेरा है.’’ उसने बताया कि कैदी लगभग बेहोशी की अवस्था में था और उसके पैर पर एक मामूली घाव दिख रहा था डिले ने कहा, ‘‘वह करीब 12 वर्ष का बच्चा रहा होगा. वह बहुत पतला था.’’  प्रशिक्षिक चिकित्सक गैलाघेर ने लड़के का इलाज करना शुरू किया. जब उसने लड़के के घायल पैर पर दबाव डाला, तो वह दर्द में चीख पड़ा. मिलर ने बताया कि उसने बच्चे के सीने पर अपना पैर रख दिया ताकि वह ऊपर नहीं उठ सके. मिलर ने कहा कि उसने देखा कि गैलाघेर ने अचानक बच्चे की गर्दन पर दो बार चाकू घोंपा.डिले ने बताया कि बाद में गैलाघेर ने उसे और अन्य अधिकारियों से कहा कि वह जानता है कि जो कुछ हुआ, वे उससे दुखी हैं, लेकिन ‘‘वह आईएसआईएस का कचड़ा था’’. बचाव पक्ष के वकील ने कहा कि गैलाघेर ने ट्यूब डालने के लिए लड़के के गले में चीरा लगाया था ताकि उसका उपचार किया जा सके. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प का ध्यान खींचने वाले इस मामले में बृहस्पतिवार को और पूर्व सील जवानों के गवाही देने की उम्मीद है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here