अफगानिस्तान के गजनी शहर में तालिबान का हमला 16 लोगों की मौत और कम से कम 40 घायल

जनता से रिश्ता वेबडेस्क : अफगानिस्तान के गजनी शहर में शुक्रवार तड़के तालिबान द्वारा किए गए हमले में कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई. इस दौरान तालिबान लड़ाकों ने कई प्रमुख इमारतों को घेर लिया और सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की. शहर के चारों तरफ से घुसे भारी हथियारों से लैस आतंकियों से अफगान सैनिकों ने मुकाबला किया. सीएनएन के अनुसार, गजनी के सार्वजनिक स्वास्थ्य निदेशक जहीर शाह निकमल ने मृतकों की संख्या की पुष्टि की और कहा कि कम से कम 40 लोग घायल हुए हैं, जिनमें ज्यादातर अफगान सुरक्षा बल के लोग शामिल हैं . प्रांतीय पुलिस प्रमुख फरीद अहमद माशाल के अनुसार, सैकड़ों की संख्या में तालिबान आतंकियों ने राष्ट्रीय सुरक्षा निदेशालय (अफगानिस्तान की खुफिया एजेंसी) और प्रांतीय गवर्नर के कार्यालय सहित महत्वपूर्ण सरकारी प्रतिष्ठानों पर धावा बोल दिया, जिसके बाद संघर्ष शुरू हो गया.

माशाल ने कहा कि बाद में आतंकी अपने ठिकानों से जवाबी गोलीबारी करने लगे और आतंकियों के सफाए के लिए अभियान जारी है. अफगानिस्तान में अमेरिकी बलों के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल मार्टिन ओडोनेल के अनुसार, अमेरिकी बलों ने हेलीकॉप्टरों के जरिए और एक ड्रोन हमले के जरिए जवाबी कार्रवाई की.

तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने एक बयान में कहा कि भारी और हल्के हथियारों से लैस सैकड़ों की संख्या में तालिबान लड़ाकों ने तड़के लगभग एक बजे गजनी शहर में प्रवेश किया और शहर में स्थित कई रणनीतिक ठिकानों को कब्जे में ले लिया और 140 से अधिक अफगान सैनिकों को मार गिराया. लेकिन अमेरिका ने इस आंकड़े को खारिज कर दिया और कहा कि प्रारंभिक रपटों से संकेत मिला है कि काफी कम संख्या में अफगान सुरक्षा बल मारे गए हैं. अफगानिस्तान ने इस हमले को शहर पर कब्जे की एक विफल कोशिश करार दिया है.