अच्छी सेहत के लिए : शरीर में कैल्शियम की कमी होने पर दिखाई देने लगते है, ये लक्षण

जनता से रिश्ता वेबडेस्क :- जयपुर। शरीर को मजबूती प्रदान करने में कैल्शियम की काफी भागीदारी होती हैं। यह रक्त के थक्के जमने (ब्लड क्लॉटिंग) में भी मदद करता है। यह शरीर के विकास और मसल बनाने में भी सहायक होता है। हरी सब्जियां, दही, बादाम और पनीर इसके मुख्य स्रोत हैं। हार्ट केयर फाउंडेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के मानद सचिव डॉ. के.के. अग्रवाल ने बताया कि कैल्शियम की कमी को हायपोकैल्शिमिया भी कहा जाता है। उन्होंने कहा कि लोगों को अच्छी सेहत के लिए कैल्शियम के महत्व के बारे में पता होना चाहिए। जिनके शरीर में कैल्शियम की कमी हो, उन्हें अपने आप दवा नहीं लेनी चाहिए और ज्यादा मात्रा में फूड सप्लीमेंट भी नहीं लेने चाहिए। यदि आपकों भी निम्न संकेत दिखाई देते हैं,तो कैल्शियम की कमी के हो सकती है। शरीर में होमोग्लोबिन की पर्याप्त मात्रा रहने और पानी की उचित मात्रा लेने के बावजूद अगर आप नियमित रूप से मसल क्रैम्प का सामना कर रहे हैं तो यह कैल्शियम की कमी का संकेत है। अगर नाखूनों में कमजोरी दिखाई देती है, तो भी कैल्शियम की कमी हो सकती है। इसके अलाव दांतों में दर्द होना भी कैल्शियम का ही एक उदाहरण होता है। कैल्शियम की कमी वाली महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान काफी तीव्र दर्द हो सकता है, क्योंकि मांसपेशियों के काम करने में कैल्शियम अहम भूमिका निभाता है। नाड़ी की समस्या होने पर भी कैल्शियम की कमी को ही माना जाता है। यदि इनमें से कोई भी लक्षण दिखाई दे तो जल्द ही विशेषज्ञ से सलाह लेवे।