Top
उत्तर प्रदेश

जिंदा जलाकर मारी गई पीड़िता का 7 साल का भतीजा लापता, पुलिस ने अपहरण का केस दर्ज जाँच में जुटी

Ritu Yadav
3 Oct 2020 6:12 PM GMT
जिंदा जलाकर मारी गई पीड़िता का 7 साल का भतीजा लापता, पुलिस ने अपहरण का केस दर्ज जाँच में जुटी
x
बिहार के उन्नाव में 5 दिसंबर 2019 को गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाकर उसकी हत्या कर दी गई थी.

जनता से रिश्ता वेबडेस्क| उन्नाव. बिहार के उन्नाव में 5 दिसंबर 2019 को गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाकर उसकी हत्या कर दी गई थी. अब पीड़िता का लगभग 7 साल का भतीजा बीते 32 घंटे से ज्यादा समय से लापता है. इसके बाद परिजनों ने मासूम की तलाश की लेकिन उसका कुछ पता पता नहीं चल सका है. इसके बाद परिजनों ने मामले की सूचना पुलिस प्रशासन को दी. रेप पीड़िता के भतीजे की लापता होने की सूचना पर पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया है. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची. एसपी आनंद कुलकर्णी, एडिशनल एसपी विनोद कुमार पांडे सहित आला अफसर गांव पहुंचे. यहां उन्होंने पीड़ित परिजनों से मुलाकात की और बयान दर्ज किया है. वहीं पीड़िता की बहन कि तहरीर पर गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाकर करने हत्या (Murder) में जिला कारागार उन्नाव में बंद मुख्य आरोपी शिवम त्रिवेदी की मां, बुआ, दो युवकों और एक पड़ोस की महिला पर पुलिस ने अपहरण का मुकदमा दर्ज कर जांच कर रही है.

5 पर केस दर्ज, जांच जारी

जानकारी के मुताबिक, गैंगरेप पीड़िता की बहन ने गांव के ही 5 लोगों पर बच्चे के अपहरण का मुकदमा दर्ज करवाया है. वहीं रेप पीड़िता के साथ हुई घटना में आरोपित के परिजनों को भी शामिल बताया है. पुलिस ने पीड़िता की तहरीर के आधार पर गैंगरेप पीड़िता को जिंदा जलाने के मामले में नामजद शिवम त्रिवेदी की मां सरोज त्रिवेदी, बुआ अनीता त्रिवेदी, रिश्तेदार कैप्टन बाजपेई, हर्षित बाजपेई और पड़ोस की रहने वाली महिला सुन्दरा लोध,के खिलाफ मुकदमा दर्ज किय. बता दें कि गैंगरेप व हत्या के मामले में नामजद मुख्य आरोपी शिवम् त्रिवेदी समेत सभी 5 आरोपी जेल में बंद हैं. मामला हाई प्रोफाइल होने से एसपी ने खुद जांच की कमान संभाली है. एसपी के नेतृत्व में मासूम की तलाश की जा रही है. 4 से अधिक टीमें मासूम की तलाश में लगी है.

उन्नाव एसपी आन्नद कुलकर्णी का बयान

एसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि शुक्रवार शाम को थाना बिहार के एक गांव में बच्चे के गायब होने की सूचना मिली थी. परिवार द्वारा पांच लोगों पर आशंका व्यक्त की गई थी. उसी के आधार पर थाने में मामला पंजीकृत किया गया है, जिसमें 5 लोगों को नामजद किया गया है. इनमें से तीन महिला अभियुक्त, दो पुरुष अभियुक्त हैं. एसपी आनंद कुलकर्णी ने बताया कि यह भी तथ्य प्रकाश में आया है कि जो बच्चा गायब है वो दिसंबर महीने में हुई गैंगरेप घटना के पीड़िता के परिवार से है.

एसपी ने बताया कि शुक्रवार रात को ही इस मामले में अभियोग पंजीकृत करके कई टीम गठन करके सघन कांबिंग ऑपरेशन चलाया गया है. एसपी उन्नाव आनन्द कुलकर्णी ने बताया कि जो नामित अभियुक्त हैं उनसे पूछताछ की जा रही है. घटना के बारे में तथ्य संकलित किए जा रहे है. एसपी आनन्द ने बताया कि पुलिस की कोशिश है कि अपहृत की शीघ्र ही बरामदगी की जाए.

Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it