राजस्थान

कोटा में बेटी ने पिता को जोरदार प्रहार से मार डाला, सिर में लगे 8 निशान, मां की शादी का हार चुराकर प्रेमी को दे दिया

Bhumika Sahu
14 July 2022 11:16 AM GMT
कोटा में बेटी ने पिता को जोरदार प्रहार से मार डाला, सिर में लगे 8 निशान, मां की शादी का हार चुराकर प्रेमी को दे दिया
x
मां की शादी का हार चुराकर प्रेमी को दे दिया

जनता से रिश्ता वेबडेस्क। कोटा, पिता से नाराज एक बेटी ने प्रेमी को 50 हजार रुपए की सुपारी देकर अपने ही पिता (एक सरकारी शिक्षक) की हत्या कर दी। रिमांड के दौरान खुलासा हुआ है कि पिता की हत्या को छिपाने के लिए बेटी ने अपने ही घर से चोरी की थी। बेटी शिवानी ने अपनी मां सुगना की शादी का सोने का हार (40.120 ग्राम) चुरा लिया। फिर उसने यह हार अपने प्रेमी अतुल उर्फ सेंटी को दे दिया।

प्रेमी ने अपनी बहन से वादा किया था

प्रेमी अतुल ने बूंदी जिले के विनायका अपनी बहिन के पास 50 हजार में शिवानी की मां का हार गिरवी रखा था। उस पैसे से उसने चोरी की एक बाइक 14 हजार 500 रुपये में खरीदी। एसएचओ बुद्धदित रामेश्वर ने बताया कि चोरी का हार बरामद कर लिया गया है। पांचों आरोपियों को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से सभी को 27 जुलाई तक न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया गया।
कड़े से सिर पर मारकर हत्या की
रिमांड के दौरान आरोपियों ने शिक्षक राजेंद्र मीणा के साथ मारपीट करने की बात कबूल की है। इस वारदात को अंजाम देने वाले आरोपियों ने धारदार पिस्टल खरीदी थी। दो-तीन आरोपियों ने राजेंद्र के सिर पर डंडों से वार किया। राजेंद्र के सिर पर चोट के 8 गहरे निशान मिले हैं। पुलिस ने हाथ की जंजीर भी जब्त कर ली है।
यह था मामला
राजेंद्र मीणा 25 जून की सुबह बाइक से बिसलाई से सुल्तानपुर आ रहे थे। रास्ते में बदमाशों ने उन पर हथियारों से हमला कर दिया। और मौके से फरार हो गए। इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। मृतक राजेंद्र मीणा पेशे से सरकारी शिक्षक थे। उसने 2009 में सरकारी टीचर से लव मैरिज कर दूसरी शादी की थी। पहली पत्नी से शिवानी बेटी है। दोनों पत्नियां अलग-अलग रहती है।
राजेंद्र के माता-पिता बिसलाई गांव में रहते हैं। राजेंद्र का सुल्तानपुर में एक घर है। शिवानी अपनी मां सुगना और भाई के साथ सुल्तानपुर के एक घर में रहती है। नशे की लत के कारण कर्ज में डूबे राजेंद्र सुल्तानपुर में अपना घर बेचना चाहते थे। घर पहली पत्नी के नाम है। जब शिवानी को सुल्तानपुर घर बेचने की बात पता चली तो वह भड़क गयी। उसने अपने पिता राजेंद्र मीणा की हत्या की साजिश रची थी। इसके लिए उनके प्रेमी अतुल मीणा शामिल हुए। वारदात को अंजाम देने के लिए घर से मां का हार चोरी हो गया।
अतुल ने वारदात को अंजाम देने के ललित मीणा,देवेंद्र,पवन भील सहित अन्य बदमाशों को साथ लिया। हत्या के मामले में पुलिस अबतक मृतक की बेटी शिवानी (19), प्रेमी अतुल उर्फ सेंटी (20) निवासी नापाहेड़ा, ललित मीणा (21) निवासी सुन्दलक जिला बारां, विष्णु भील (21) व विजय सैनी (20) निवासी नांता कोटा को गिरफ्तार कर चुकी है। जबकि देवेंद्र मीणा व पवन भील अभी फरार है।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta