छत्तीसगढ़

बैजनाथपारा के वार्डवासी परेशान, रात भर होटलों और गलियों में चल रहे अवैध कारोबार से

Shantanu Roy
11 May 2022 6:10 PM GMT
बैजनाथपारा के वार्डवासी परेशान, रात भर होटलों और गलियों में चल रहे अवैध कारोबार से
x

फ़ाइल फोटो

ब्रेकिंग

रायपुर। राजधानी के गोलबाजार और बैजनाथ पारा इलाके में खुलेआम गांजा, सट्टा का अवैध कारोबार चलाया जा रहा है। रायपुर जिले का हर थाना क्षेत्र हर नशे का गढ़ बन गया है। यहाँ गांजा अवैध शराब सहित मेडिशिन नशे का अवैध काला कारोबार अब दिन प्रतिदिन बढ़ते ही जा रहा है। इलाके में व्यवसायिक गतिविधियों के चलते रहवासियों को आवास में भी काफी परेशानियां हो रही है। यत्र तत्र अवैध नशे का कारोबार इस तरह फल फूल रहा है मानो इन कारोबारियों को प्रशासन का कोई खौफ ही नही है। शहर के बैजनाथ पारा इलाके में रोजाना रातोरात गांजा का कारोबार करते है जिससे मौहल्लेवासियों की नींद हराम हो चुकी है। रात भर होटल चलने के कारण मौहल्लेवासियों का सोना भी मुश्किल हो गया है। रातोरात पुलिस पेट्रोलिंग के चलने के बाद भी बैजनाथ पारा में चाय की टपरियों के खुलेआम गांजा बिकता है। जिससे वहा के बुजुर्ग से लेकर कई वर्ग के लोग परेशान हो गए है।

नाम ना छपने के शर्त पर बैजनाथ पारा इलाके के लोगों ने जनता से रिश्ता के दफ्तर में आकर शिकायत दी है कि रोजाना बैजनाथ पारा से लेकर गोलबाज़ार थाना इलाके तक की सभी होटलों और बारों में सट्टा का कारोबार और मौहल्ले की सूनसान गलियों में अवैध गांजा का कारोबार चला आ रहा है। इलाके के लोगों का ये भी कहना है कि इन सभी की शिकायत पुलिस तक नहीं की जाती क्योंकि इसकी शिकायत पुलिस में की जाती है तो उसके साथ मारपीट भी किया जाता है। घर से बाहर निकालकर लोगों को बेरहमी से पीटा जाता है।

डी-कंपनी की तरह फैला रहे अवैध धंधों का जाल

राजधानी में रवि और आसिफ के गुर्गों ने मिलकर रायपुर को भी डी-कंपनी बना लिया है। रायपुर शहर बहुत बड़ा है इसलिए इस शहर में अपराध भी बहुत बड़े है। डी-कंपनी एक मोस्ट अंडरवल्र्ड डॉन के नाम से जानी जाती है लेकिन अब रायपुर के मशहूर गुंडे-दादा लोग इस कंपनी के कामकाज को अपनाने लगे है। रायपुर के कालीबाड़ी इलाके से लेकर महासमुंद तक फैला हुआ है। रायपुर में सिर्फ रवि और आसिफ ही ऐसे तस्कर और सट्टेबाज है जिन तक पुलिस पहुंच भी जाती है तो इनको कोई डर नहीं रहता। रायपुर को ये दोनों आरोपी ष्ठ-कंपनी बनाते जा रहे है।
कालीबाड़ी इलाके में गांजा-सट्टा अनलॉक
राजधानी के कालीबाड़ी इलाके में स्थित सुलभ शौचालय के आगे स्थित खाली मैदान के पास से गली जाती है। ये वही गली है जहा शहर भर के नशेड़ी आना-जाना करते है इस गली में गांजा, सट्टा, जुआ का कारोबार खुलेआम चल रहा है। गंजेड़ी नशेड़ी लोग इस गली को रखवाली करने के लिए पूरी गली में पहरा देने के लिए एक चेन बनाकर काम कर रहे है। गलियों से ही इलाके से बाहर भागने का भी रास्ता अवैध कारोबरियों ने बना लिया है। सबसे चौकाने वाली बात तो ये है कि कोतवाली थाना पुलिस को इसकी भनक तक नहीं लग रही है। जबकि इसी गली की एक छोर में गांजा बिकता है तो दूसरे छोर में सट्टा चलता है।
ठेको की जगह बैजनाथपारा में शराब पीते लोग
रायपुर शहर के ठेकों में मासूम भी शराब के जाम गटक रहे हैं। यह सब दिन-दहाड़े और शहर के व्यस्त क्षेत्र में हो रहा है। शहर के प्रमुख स्थानों पर शराब के ठेकों की स्थिति यह है कि किसी भी उम्र का किशोर शराब की बोतल खरीदकर ले जा सकता है। शराब लेने के बाद कई किशोर तो इन दुकानों में अंदर बैठकर भी दीवार की ओट में शराब पीते हुए दिखाई देते है। शहर के बैजनाथ पारा बस डिपो, माना रोड, अंतर्राज्यीय बस टर्मिनल सहित कई स्थानों किशोर शराब ले जाते हुए मिले।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta