छत्तीसगढ़

पटवारी निलंबित, पीएचसी प्रभारी को नोटिस

Shantanu Roy
5 May 2022 6:25 PM GMT
पटवारी निलंबित, पीएचसी प्रभारी को नोटिस
x
छग

बैकुंठपुर। जून माह में मुख्यमंत्री के आगमन को देखते हुए जिला प्रशासन एक्शन मोड में है, जिला कलेक्टर कुलदीप शर्मा औचक जिले के दूरस्थ क्षेत्र भरतपुर के बहरासी पहुंचें। ग्रामीणों के साथ बैठे, हालचाल जाना, लापरवाही पर नाराज हुए और नोटिस जारी करने को कहा, वहीं पटवारी को निलंबित करने का आदेश जारी किया। गुरूवार को कलेक्टर कुलदीप शर्मा प्रशसान की टीम के साथ दूरस्थ क्षेत्रों के दौरे पर रहे। कोरिया जिला मुख्यालय से 140 किमी दूर स्थित बहरासी पहुंचें, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का निरीक्षण किया, कई खामियां पाई जिससे वो काफी नाराज हुए, उन्होनें केन्द्र प्रभारी को नोटिस जारी के साथ 1 माह के वेतन रोके जाने और आगामी आदेश तक वेतन वृद्धि रोके जाने के निर्देश दिए।

केन्द्र में उन्होनें भर्ती मरीजों से बात कर स्वास्थ्य जांच, चिकित्सकों की उपस्थिति, दवाईयों की उपलब्धता की जानकारी ली। उन्होंने स्वास्थ्य केंद्र में साफ सफाई, शौचालय एवं अन्य व्यवस्थाओं को ठीक किए जाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान ओएसडी पीएस धु्रव एवं ओएसडी पुलिस टीआर कोशिमा एवं जिला पंचायत सीईओ कुणाल दुदावत उपस्थित रहे। इसके बाद उन्होने बालिका छात्रावास और शासकीय उचित मूल्य की दुकान का अवलोकन कर स्टॉक की जानकारी ली तथा 2 प्रकरणों में थम्ब इम्प्रेशन काम नहीं किए जाने पर हितग्राहियों को राशन नही मिलने की जानकारी प्राप्त होने पर उन्होंने 1 सप्ताह के भीतर नॉमिनी अपडेट कर निराकरण किए जाने के निर्देश दिए।
कलेक्टर कुलदीप शर्मा की कार्यशैली आमजन को भलीभांति समझ में आने लगी है, लोगों की तसल्ली से बात सुनना और उसका निराकरण करने की पहल करना, यही कारण है कि लोग कलेक्टर से मिलकर अपनी व्यथा सुनाने आगे आते हैं। बहरासी स्कूल परिसर में कलेक्टर ने ग्रामीणों से चर्चा की, राजस्व मामले की जानकारी ली, ग्रामीणों के द्वारा पटवारी को लेकर कई तरह की बातें बताई जिसके बाद कलेक्टर ने पटवारी को निलंबित करने के निर्देश दिए, वहीं कलेक्टर उपस्वास्थ्य केंद्र शेरी पहुंचें, जहां की बेहतर व्यवस्था देख एएनएम सरिता और स्मिता की उन्होनें प्रशंसा की।
कलेक्टर से बात करते हुए ग्रामीण महिला बिरजिया ने नामांतरण प्रकरण पर परेशानी साझा की। इसी तरह अन्य ग्रामीण बलराम ने मृत्यु प्रमाण पत्र प्राप्त करने में हो रही दिक्कत साझा की। कलेक्टर ने नाराजगी जताते हुए तीन दिन में निराकरण के निर्देश तहसीलदार और एसडीएम को दिए। चौपाल में ग्रामीणों से चर्चा के दौरान पटवारी द्वारा काम मे लापरवाही की शिकायत मिलने पर कलेक्टर ने एसडीएम को त्वरित कार्यवाही करते हुए पटवारी को निलंबित करने की रिपोर्ट भेजने के निर्देश दिए।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta