छत्तीसगढ़

प्लान के तहत मर्डर, पुलिस ने 3 आरोपियों को दबोचा

Janta Se Rishta Admin
7 Nov 2021 7:12 AM GMT
प्लान के तहत मर्डर, पुलिस ने 3 आरोपियों को दबोचा
x
छत्तीसगढ़

दुर्ग। दुर्ग जिले में गौरा गौरी विसर्जन के दौरान तीन लोगों ने मिलकर एक युवक की बेदर्दी से पिटाई कर दी। तीनों उस अकेले युवक को तब तक पीटते रहे, तब तक उसकी सांस नहीं उखड़ गई। पुलिस के मुताबिक इस हत्याकांड के पीछे वजह उनकी पुरानी रंजिश थी, जिसे तीनों ने मिलकर हत्या में परिणित कर दिया। इस हत्याकांड में तीनों हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया गया है। हत्या का यह मामला कुम्हारी थाना क्षेत्र का है। इस मामले की पूरी जानकारी देते हुए कुम्हारी थाना प्रभारी उत्तम कुमार वर्मा ने बताया कि घटना शुक्रवार सुबह 5 बजे की है। पंचदेवरी गांव का रहने वाला कमलेश महिलांग (21) गांव में महावीर चौक के पास गौरा गौरी विसर्जन कार्यक्रम देखने गया था। वह कार्यक्रम देख ही रहा था कि उसे वहां परदेशी विश्वकर्मा, खिलेश विश्वकर्मा और नरेन्द्र विश्वकर्मा मिल गए। तीनों आरोपी नशे में धुत थे। पुरानी रंजिश की बात को लेकर तीनों कमलेश से झगड़ा कर गाली गलौज करने लगे।

कमलेश और आरोपी तीनों के बीच पुरानी रंजिश थी। तीनों उस दौरान नशे में थे और जानबूझकर कमलेश से उलझने लगे। जब कमलेश ने विरोध किया तो वह लोग लाठी डंडा लेकर उसे बुरी तरह पीटने लगे। तीनों ने मिलकर कमलेश को इतना पीटा की उसकी मौके पर ही मौत हो गई। वारदात के बाद आस-पास के लोगों ने मामले की शिकायत पुलिस से की। जिस पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया था। तीनों वारदात के बाद घर में दुबककर बैठे थे, जहां पुलिस ने घेराबंदी कर उन्हें गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में प्रत्यक्षदर्शियों ने पुलिस को बताया कि तीनों आरोपी कमलेश की हत्या की योजना बनाकर लाठी डंडा लेकर आए थे। आयोजन के दौरान ही वह उसे जबरदस्ती झगड़ने लगे। जैसे ही विवाद बढ़ा तीनों ने मिलकर उसे पीटने लगे। इस दौरान कमलेश चीखता चिल्लाता रहा, लेकिन नशे में धुत आरोपी उसे तब तक पीटते रहे, जब तक कि उसकी चीखें बंद नहीं हो गईं।


Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta