छत्तीसगढ़

महापौर ने महिला स्वसहायता समूह, शिल्पियों, बुनकरों द्वारा निर्मित उत्पादों के मार्केटिंग के लिए शो-रूम सीमार्ट का किया शुभारंभ

jantaserishta.com
5 May 2022 2:50 AM GMT
महापौर ने महिला स्वसहायता समूह, शिल्पियों, बुनकरों द्वारा निर्मित उत्पादों के मार्केटिंग के लिए शो-रूम सीमार्ट का किया शुभारंभ
x

राजनांदगांव: महापौर श्रीमती हेमा देशमुख ने आज महिला स्वसहायता समूह, शिल्पियों, बुनकरों द्वारा निर्मित उत्पादों के मार्केटिंग के लिए शो-रूम सी-मार्ट का शुभारंभ किया। उल्लेखनीय है कि राज्य शासन द्वारा समूह की महिलाओं तथा पारंपरिक कुटीर उद्योग द्वारा निर्मित उत्पादों के समुचित मूल्य के लिए सी-मार्ट की व्यवस्था की गई है। इसी कड़ी में आज राजनांदगांव के सामुदायिक भवन जलतरंग कॉलोनी के पास सी-मार्ट प्रारंभ किया गया है। इस अवसर पर कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा, जिला पंचायत सीईओ श्री लोकेश चंद्राकर उपस्थित रहे।

महापौर श्रीमती हेमा देशमुख ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल को सी-मार्ट की इस विशेष पहल के लिए धन्यवाद। मुख्यमंत्री ने जमीनी स्तर पर कार्य करने वाली महिला स्वसहायता समूह को सशक्त बनाने की दिशा में कारगर कार्य किया है। राजनांदगांव में सी-मार्ट के लिए एक भवन दिया गया है। यहां समूह की महिलाओं द्वारा निर्मित हल्दी, मिर्च, धनिया, मसाले, पापड़, बड़ी, अचार जैसे स्थानीय उत्पादों की बिक्री हो रही है। जिससे उनका आर्थिक सुदृढ़ीकरण होगा। महापौर श्रीमती देशमुख ने इस अवसर पर स्थानीय उत्पादों की खरीदी की।
कलेक्टर श्री तारन प्रकाश सिन्हा ने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप जिले में महिला स्वसहायता समूह के प्रोडक्ट को राजनांदगांव शहर में विक्रय के लिए स्थान उपलब्ध कराया गया है। जिससे उनको आसानी से मार्केट उपलब्ध होगा। उन्होंने बताया कि राजनांदगांव नगर निगम के सहयोग से सी-मार्ट खोला गया है। उम्मीद है कि स्थानीय उत्पादों को स्थान मिलेगा और समूह की महिलाएं लाभान्वित होंगी।
गौरतलब है कि एक ही स्थान सी-मार्ट में समूह की महिलाओं द्वारा बनाए विभिन्न तरह के उत्पाद जनसामान्य के लिए उपलब्ध रहेंगे। स्वास्थ्य के लिए लाभप्रद जैविक उत्पादों के अलावा विभिन्न तरह के मसालों तथा खाद्य पदार्थों की वेरायटी यहां उपलब्ध हैं। यहां आरूग जैविक सुगन्धित चावल, आरूग जैविक कोदो, रागी आटा, हल्दी, काला चावल, आरूग शहद, हिमालयन काला नमक, अदोरी बड़ी, गरम मसाला, मूंग पापड़, आंवला अचार, पोहा, महुआ चिक्की, महुआ लड्डू, मशरूम के अचार, मशरूम के पापड़, वैदिक पेय, नीम दंत मंजन, सेनेटरी पैड, गौधूली तिलक चंदन, देशी गाय के गोबर का कंडा, शुद्ध आम की लकड़ी, पत्तल, मसाला, चावल पापड़, पास्ता, धनिया पाऊडर, मिर्ची पाऊडर, साबून, फिनाईल, बैग उपलब्ध हैं। साथ ही पर्स, बुनकरों के हस्तनिर्मित बेडशीड, टॉवेल, रूमाल एवं अन्य उत्पाद उपलब्ध हैं। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ श्री लोकेश चंद्राकर ने स्थानीय उत्पादों की खरीदी की। इस मौके पर नगर निगम आयुक्त श्री आशुतोष चतुर्वेदी, कार्यपालन अभियंता श्री यूके रामटेके, महापौर परिषद के सदस्य मधुकर बंजारी, श्री राजा तिवारी, सुनीता फंडनवीस, पार्षद श्री ऋषि शास्त्री, श्री शरद पटेल, एल्डरमेन श्री प्रभात गुप्ता, पूर्णिमा नागदेवे, पूर्व नगर निगम अध्यक्ष श्री रमेश डाकलिया उपस्थित थे।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta