छत्तीसगढ़

गांजा सप्लाई नहीं करने पर बच्चे और मां-बाप की पिटाई

Janta Se Rishta Admin
2 May 2022 5:39 AM GMT
गांजा सप्लाई नहीं करने पर बच्चे और मां-बाप की पिटाई
x

शिकायत करने पर पुलिस मांगे सबूत, गाली-गलौज कर भगाया, आमानाका क्षेत्र में बबलू डॉन का आतंक

रायपुर (जसेरि)। राजधानी में तस्करों ने तेजी से पैर पसारना शुरू कर दिया है। शहर के आउटर में सट्टा, जुआ, गांजा-अवैध शराब की तस्करी करने वालों ने शहर के रिहायशी क्षेत्र में कब्जा कर लिया है। ताजा मामला सरस्वती नगर स्टेशन के पास मोतीलाल नगर के चांदनी चौक में बबलू बाघ पिता पुस्त बाघ जबरदस्ती छोटे-छोटे बच्चों को पैसे का लालच देकर गांजा-शराब का सप्लायर बनाने के लिए दबाव बनाता है और जिसके माता-पिता ऐसे काम करने से मना करते है तो आधीरात को बबलू का गैंग पहुंच जाता है और घर में घुस कर घर के पुरूष और महिलाओं के साथ बच्चों की बेदम पिटाई करने लगता है ऐसा ही मामला सामने आया है।

पीडि़ता बनीता कोरवा और रितु नायक ने बताया कि शनिवार रात 12 बजे बबलू और उसके चार साथी बलात घर में घुस गए और पूरे परिवार पर कहर बरपाया। बनीता कोरवा को हाथ-पैर-सिर में चोट आई है। वहीं उसके दोनों बच्चों को रात में एम्स में भर्ती करना पड़ा। बबलू डान की मार से दोनों नाबालिग बच्चों का सिर फट गया खून बहने से बेहोश होने पर दोनों के रात 3 बजे एम्स में भर्ती कराया जहां उपचार चल रहा है। उसके बाद सभी पीडि़त महिलाए आमानाका थाने रिपोर्ट करने गई तो वहां स्ठाफ के नाम पर दो जवान सो रहे थे जो फरियादियों को दुव्र्यवहार कर सबूत के साथ सुबह आना सभी साहब नहीं हैकहकर भगा दिया। पीडिता ने आरोप लगाया कि घर में जब पति काम पर चला जाता है तब बच्चों को लालच देकर गांजा और शराब सप्लाई का काम करने के लिए कहता है यदि कोई सप्लायर नहीं बनने के बात कहता है तो वहीं पर उसकी पिटाई शुरू कर देता है। मोतीलाल नेहरू नगर के पास चांदनी चौक में बबलू बाघ का इतना आतंक है कि बच्चों को उसके गांजा और दारू सप्लाई के लिए नहीं भेजने पर माता-पिता की भी वहीं पिटाई शुरू कर देता है। कल रात भी ऐसा ही हुआ बनीता कोरवा ने अपने दोनों बच्चों को गांजा का पुडिय़ा और शराब के लिए नहीं भेजने पर बबलू डान रात में आकर पूरे परिवार के साथ मारपीट कर बुरी तरह जख्मी कर दिया। उसी हालात में थाने पहुंचे तो थाने में मुंशी और जवान ने नींद खराब मत करो सुबह आना करके चलता कर दिया। पीडि़ता ने आरोप लगाया है कि पुलिस से सांठगांठ कर बबलू पूरे आमानाका क्षेत्र में गांजा-शराब के साथ जुआ और सट्टा चलाता है। उसके खिलाफ शिकायत करने पर पुलिस फरियादियों को बैरंग लौटा देता है। बबलू के गिरोह में चार और लोग शामिल है जो गांजा-शराब-जुआ-सट्टा के कारोबार में भागीदार है। आमानाका थाना क्षेत्र में इन पांचों लोगों की नजर में छोटे-छोटे बच्चे टारगेट हैं जिसने वो गांजा की पुडिय़ा और शराब की सप्लाई करवाने के लिए जबरदस्ती करते है और जो मना करता है उसकी मरते दम तक पिटाई करते है। बबलू के आतंक से आमानाका क्षेत्र में निवास करने वाले गरीब परिवार दहशत में है। बबलू कभी भी किसी के बच्चे को उठाकर ले जाता है और गांजा -शराब की सप्लाई में लगा देता है। नाबालिग बच्चों के साथ अमानवीय व्यवहार की थाने में कई बार शिकायत करने के बात भी पुलिस के कान में जूं तक नहीं रेंगी है। अब पीडि़त पक्ष मुख्यमंत्री, गृहमंत्री क्षेत्रीय विधायक, आईजी और एसएसपी से सीधे शिकायत करेंगे कि गरीबों का थाने कोई सुनवाई नहीं होती पुलिस वाले फरियादियों की बात को हंसी मजाक में उड़ा देते है। कभी भी किसी की जान जा सकती है। हमेशा मौत का खतरा मंडराते रहता है। पीडि़तों ने कहा पुलिस वालों हमें बबलू डान से बचा लो नहीं तो हम मर जाएंगे।

इस संबंध में जनता से रिश्ता के संवाददाता ने आमानाका थानेदार से बात की तो उन्होंने ने कहा कि अभी तत्काल पीडि़त पक्ष को भेजो मैं तुरंत कार्रवाई करता हूं। किसी भी पीडि़त के साथ अन्याय नहीं होगा।

- याकूब मेमन, टीआई आमानाका

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta