छत्तीसगढ़

कैबिनेट मोहम्मद अकबर ने 5 विपत्तिग्रस्त परिवार को किया 20 लाख रूपए का चेक वितरण किया

jantaserishta.com
5 Feb 2022 2:39 AM GMT
कैबिनेट मोहम्मद अकबर ने 5 विपत्तिग्रस्त परिवार को किया 20 लाख रूपए का चेक वितरण किया
x
प्राकृतिक आपदा के सभी प्रकरणों पर तत्परात की जा रही से कार्यवाही।

कवर्धा: छत्तीसगढ़ के वन, परिवहन, आवास एवं पर्यावरण मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने आज शुक्रवार को अपने विधानसभा के प्रवास के दौरान बोड़ला जनपद परिसर में 5 विपत्तिग्रस्त परिवारों को चेक वितरण किया। वन मंत्री ने चेक वितरण करते हुए विपत्तिग्रस्त परिवारों के सदस्यों से कहा कि वह इस चेक को बैंक में जमा कर राशि प्राप्त कर सकते है। चेक वितरण करते समय मंत्री श्री अकबर ने परिजनों से भेंट भी की और अपनी संवेदना प्रकट की। उन्होंने शोक संतप्त परिवारों को हर संभव सहायता के लिए आश्वस्त किया। श्री नीलकंठ चंद्रवंशी, श्री कलीम खान, पीताम्बर वर्मा, बोड़ला जनपद अध्यक्ष श्रीमती अमिता मरकाम, उपाध्यक्ष श्री सनत जायसवाल, नगर पंचायत अध्यक्ष श्रीमती सावित्री साहू, उपाध्यक्ष श्री संतोष अवस्थी, पार्षद श्री अशोक सिंह, श्री आकाश केशरवानी, अजमत उल्लाह खान, श्री अमर वर्मा, श्री राजेश शुक्ला श्री प्रभाती मरकाम, श्री मोहन अवस्थी, विजय राजपूत, पुलिस अधीक्षक डॉ. लाल उमेद सिंह, वन मंडलाधिकारी श्री चूणामणि सिंह, बोड़ला एसडीएम, जिला खाद्य अधिकारी श्री अरुण मेश्राम, जनपद सीईओ श्री केसव वर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

मंत्री श्री अकबर द्वारा आबीसी-6-4 के तहत बोड़ला जनपद परिसर में ग्राम बिसंपुरा निवासी हुकमीचंद की आकाशीय बिजली गिरने से मृत्यु हो जाने पर विपत्तिग्रस्त श्रीमती कांति बाई को, ग्राम जैताटोला निवासी जमुना की सर्पदंश से मृत्यु हो जाने पर विपत्तिग्रस्त श्री चतुर, ग्राम पकरीपानी निवासी मुकेश की सर्पदंश से मृत्यु हो जाने पर विपत्तिग्रस्त सजनी ध्रुव को, ग्राम चिल्फी निवासी कबीरदास की नाले में डूबने से मृत्यु हो जाने पर विपत्तिग्रस्त सुषमा, अमृत (मृतक की पत्नी एवं मा) को और ग्राम मगरवाडा निवासी अमन सागर की सर्पदंश से मृत्यु हो जाने पर विपत्तिग्रस्त कन्हैया को राजस्व पुस्तक परिपत्र (आबीसी-6-4) के तहत 4-4 लाख रूपए की चेक प्रदान किया।
उल्लेखनीय है कि श्री मोहम्मद अकबर जब से विधायक और मंत्री बने है, तब से प्राकृतिक आपदा के सभी प्रकरणों पर तत्परात से कार्यवाही की जा रही और विपदाग्रस्त परिजनों, हितग्राहियों को आर्थिक सहायता राशि शीघ्रता से मिल रही है। जितने भी प्रकरण हुए है उनके विपत्तिग्रस्त परिवार के सदस्यों को कठनाईयों को समना करना ना पड़ें इसलिए इस तरह के सभी प्रकरणों को शीघ्रता निराकरण करने के निर्देश दिए है।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta