छत्तीसगढ़

खैरबार सागौन नर्सरी में लगी भीषण आग, दमकलकर्मी मौके पर

Shantanu Roy
30 April 2022 3:09 PM GMT
खैरबार सागौन नर्सरी में लगी भीषण आग, दमकलकर्मी मौके पर
x
छग

अंबिकापुर। शहर से लगे खैरबार सागौन नर्सरी में नशेड़ियों ने आग लगा दी। भीषण गर्मी के बीच लगी आग कुछ देर में ही पूरे नर्सरी में फैल गई है। भारी नुकसान पहुंचा है। छोटे जीव जंतुओं को नुकसान पहुंचने के साथ पौधे भी जल गए हैं। ग्रामीणों की सूचना पर फायर वाचर की टीम मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाने की कोशिश में लगी है पर तेज हवा और धूप ने मुश्किलों में डाल दिया।

शहर से लगे खैरबार सागौन नर्सरी में शनिवार की दोपहर अज्ञात तत्वों ने आग लगा दी। खैरबार खुदीपारा के समीप झाड़ियों में लगी आग धीरे धीरे पूरे नर्सरी में फैल गई। कुछ देर में ही लगभग 50 एकड़ क्षेत्र में आग की लपटे उठने लगी। तेज धूप और हवा के कारण काफी तेजी से आग बढ़ते गई और ग्रामीण भी घर से बाहर निकल आए। नर्सरी में बड़ी संख्या में गिलहरी व अन्य छोटे जीव जंतुओं की संख्या है जो आग की लपटों की चपेट में आ गए।
सागौन व अन्य छोटे पौधों को भी भारी नुकसान पहुंचा है। इस बीच ग्रामीणों ने वन विभाग के अधिकारियों की सूचना दी।सूचना पर फायर वाचरों की टीम पहुंची। चिलचिलाती धूप में फायर वाचरों ने आग की लपटों को रोकने का प्रयास किया। घंटों मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया पर जिस क्षेत्र में आग लगी वहां के छोटे पौधे पूरी तरह नष्ट हो गए। बता दें, इस इलाके में वन भूमि पर अवैध कब्जे का खेल भी चल रहा है। जानबूझकर असामाजिक तत्व व नशेड़ी किस्म के लोग हर बार जंगल में आग लगा देते हैं और खाली जगह को कब्जा करने की कोशिश करते हैं। बड़े हो चुके सागौन के पेड़ों को एक-एक कर काट रहे हैं।
सिगरेट पीकर फेंकने से फैली आग
ग्रामीणों के मुताबिक शहर से बड़ी संख्या में युवा खैरबार में सिगरेट व गांजा पीने आते हैं।यहां के छोटे-छोटे गुमटीनुमा दुकानों में नशे का सामान भी मिलता है। इन्हें युवाओं के द्वारा जंगल में जाकर सिगरेट और गांजे सेवन किया जाता है। शनिवार को दोपहर लगभग दो बजे किसी ने सिगरेट पीकर शेष भाग फेक दी और आग लग गई। ग्रामीणों में इसको लेकर काफी आक्रोश है।
शहर के करीब का जंगल नहीं बचा पा रहा विभाग
शहर के सबसे करीब स्थित खैरबार जंगल को विभाग नहीं बचा पा रहा है। यहां पदस्थ मैदानी कर्मचारी कभी भी इस इलाके में नजर नहीं आते। असामाजिक तत्व एक-एक कर पेड़ काट रहे हैं। वन भूमि पर कब्जा कर रहे हैं।शहर के लोग भी वन भूमि पर कब्जा करने की कोशिश में लगे हैं।वन भूमि पर एक-एक कर झोपड़ी व मकान बनाकर रहने लगे हैं पर कार्रवाई नहीं की जाती।इसी कारण मनोबल बढ़ रहा है। धीरे-धीरे जंगल में आग लगा के व पेड़ो को काटकर वन भूमि पर कब्जा करने की योजना बना रहे हैं।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta