छत्तीसगढ़

रिश्वत की मांग करने वाले पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई: ओपी पाल

Shantanu Roy
5 May 2022 5:58 PM GMT
रिश्वत की मांग करने वाले पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों पर होगी कार्रवाई: ओपी पाल
x
छग

धमतरी। रायपुर रेंज के आइजी बनने के बाद ओपी पाल पांच मई को पहली बार धमतरी पहुंचे। एसपी कार्यालय में पुलिस अधिकारियों ने उनका स्वागत किया। तत्पश्चात आइजी पाल ने पुलिस अधिकारियों की बैठक लेकर जिले में पुलिसिंग की जानकारी ली। वहीं चर्चा में आइजी ने स्पष्ट चेतावनी दी है कि थाना में लोगों से नम्र भाव से पेश आएं। उनकी समस्या सुनने और उचित व्यवहार करें। रिश्वत की मांग करने वाले पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों की शिकायत मिलने पर जांच की जाएगी और पुष्टि होने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।

एसपी कार्यालय धमतरी के सभाकक्ष में आइजी ओपी पाल पुलिस अधिकारियों की बैठक लेते हुए बढ़ते अपराध एवं अनैतिक गतिविधियों,नशे जुआ,सट्टा के अवैध कारोबार पर अंकुश लगाने समेत बेहतर पुलिसिंग को लेकर निर्देश दिए। युवाओं में बढ़ती नशे के जाल को पूर्णता समाप्त करने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने के लिए निर्देशित किया। वहीं नशे के सामान बेचने वालों पर भी सख्त कार्रवाई करने कहा है। चोरी एवं चाकूबाजी की घटनाओं को गंभीरता से लेते हुए ऐसे लोगों की पहचान कर उसे सूचीबद्ध कर उनके विरुद्ध वैधानिक कार्रवाई करने निर्देशित किया गया।
जिले की यातायात व्यवस्था को सुचारू बनाए रखने के लिए पुलिस निरीक्षक के द्वारा लगातार कार्रवाई करने ब्लैक स्पाट का पहचान करने तथा दुर्घटनाओं को रोकने के लिए आवश्यक कार्रवाई करने कहा है। अनुसूचित जाति जनजाति से संबंधित राहत राशि के प्रकरणों को त्वरित निराकरण करने के लिए निर्देशित किया गया। सभी थाना प्रभारियों को थाने में आगंतुकों, पीड़ितों,प्रार्थी,आवेदकों से शालीनता पूर्व व्यवहार करने के निर्देश दिए है। निर्दोष व्यक्ति को न सताए। अधिकारियों, थाना प्रभारियों को आमजनों से मित्रवत व्यवहार रखने एवं अपने व्यवहार में शालीनता लाने निर्देश दिए हैं।
आइजी ओपी पाल ने जिले के नक्सली थाने एवं कैंप को नक्सली गतिविधियों से भी निपटने लगातार सर्चिंग किए जाने एवं सुरक्षा के संबंध में महत्वपूर्ण निर्देश दिए। आइजी ने नक्सल में पदस्थ राजपत्रित अधिकारी और थाना प्रभारियों को अधिक से अधिक न एरिया डोमिनेशन की कार्रवाई करने कहा है। साथ ही पुलिस अधिकारियों को इन क्षेत्रों में सूचना तंत्र मजबूत करने निर्देशित किया है। ताकि नक्सली गतिविधियों को रोका जा सके। उल्लेखनीय है कि आइजी ओपी पाल वर्ष 2007 से 2009 में धमतरी जिले के एसपी रह चुके हैं। बैठक में एसपी प्रशांत ठाकुर, एएसपी निवेदिता पाल समेत पुलिस अधिकारी शामिल हुए।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta