छत्तीसगढ़

2.20 लाख का सोना चोरी, ईरानी गिरोह के दो आरोपी महाराष्ट्र और कर्नाटक से गिरफ्तार

Shantanu Roy
29 April 2022 3:47 PM GMT
2.20 lakh gold theft, two accused of Irani gang arrested from Maharashtra and Karnataka
x
बड़ी खबर

धमतरी। सोने का तार खरीदने के बहाने झांसा देकर उठाईगीरी करने वाले ईरानी गिरोह के दो आरोपितों शेख गुलाम अब्बास और अयूब हुसैन को पुलिस ने शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस लगातार सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही थी। फुटेज से मिले क्लू से ही आरोपित पकड़ में आए। एक सदस्य अब भी फरार है।

धमतरी के कोष्टा पारा में तारा बंगाली गोल्डन हाउस दुकान है। वह 30 जनवरी को दुकान में सोने का जेवर बनाने का कार्य कर रहा था। उसी समय दोनों आरोपित वहां आए। मंदिर में चढ़ाने के लिए सोना का टुकड़ा मांगा। दराज से टुकड़ा निकाल कर तौलकर 800 रुपये में दे दिया। इसके बाद एक ग्राम के सोने का रिंग बनाने का आर्डर दिया और बोला कि 10 मिनट में आकर ले जाऊंगा।
2000 रुपये एडवांस देकर दुकान से चले गए। दोनों के जाने के बाद तारा बंगाली ने देखा तो 22 नग सोने की पत्ती 25 ग्राम, एक सोने का मंगलसूत्र सहित 2.20 लाख के गहने दराज से गायब थे। रिपोर्ट के बाद कोतवाली पुलिस उठाईगीरी का मामला दर्ज कर पतासाजी में लगी थी। पुलिस ने घटना स्थल के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज का निरीक्षण किया।
फुटेज से प्राप्त हुलिया के आधार पर अज्ञात आरोपितों की पतासाजी के लिए कोतवाली टीम ने धमतरी सहित आसपास के सीसीटीवी फुटेज को खंगाला। फुटेज में दिखे दो संदिग्ध के शारीरिक बनावट एवं हुलिया से ईरानी गैंग के सदस्य होने आशंका हुई। इसके बाद सीसीटीवी फुटेज को नेशनल पोलिस वाट्सअप ग्रुप में शेयर किया गया।
जिससे पता चला कि आरोपित शेख गुलाम अब्बास (49) निवासी मुल्ला अब्दुल खालीद चाल पंखेसर बाबा दरगाह घाटकोपर वेस्ट मुंबई (महाराष्ट्र) और अयूब हुसैन (32) बीदर चिदरी रोड हुसैनी कालोनी थाना गांधीगंज जिला बीदर (कर्नाटक) हैं। दोनों आरोपितों को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया। इस अपराध में एक और भी शामिल था, जो फरार हैं। आरोपितों से सोना बरामद नहीं हुआ है। कार्रवाई में टीआइ भुनेश्वर नाग, उप निरीक्षक रमेश साहू, प्रधान आरक्षक दिनेश तुरकाने, आरक्षक नितेश राज वर्मा, बृजेश वैष्णव, हेमंत सूर्यवंशी की भूमिका रही।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta