Top
लाइफ स्टाइल

सावधान! ज्यादा नमक खाने से घेर सकती है बीमारियां, जानिए दिनभर की सही मात्रा

Admin1
23 Feb 2021 3:58 AM GMT
सावधान! ज्यादा नमक खाने से घेर सकती है बीमारियां, जानिए दिनभर की सही मात्रा
x

हर भारतीय रोजाना खाता है 11 ग्राम नमक, 4 में से 1 को हाई बीपी, हाइपरटेंशन से हर साल 3 लाख मौतें.

Health Tips: कहते हैं की खाने में नमक स्वादानुसार हो तो किसी को भी पसंद आता है. हालांकि कई लोग तेज यानी ज्यादा नमक खाने के सौकीन होते हैं. आज हम आपको बता रहे हैं कि नमक ज्यादा खाने से शरीर को काफी नुकसान होता. आपको अधिक नमक खाने से कई तरह की बीमारियां घेर सकती हैं.

इस स्टोरी में हम आपको न सिर्फ यह बताएंगे कि नमक खाने से क्या परेशानी होती है बल्कि यह भी बताएंगे कि कितना नमक खाना सेहत के लिए सही है.
-विशेषज्ञों के मुताबिक अगर आप स्वस्थ्य रहना चाहते हैं तो दिनभर में 2300 मिलीग्राम नमक ही खाना चाहिए.
-अगर हम इस बात पर ध्यान नहीं देते कि हम कितना नमक खाते हैं तो अक्सर हम ब्लड प्रेशर जैसी गंभीर बीमारी का शिकार हो जाते हैं.
-इतना ही नहीं ज्यादा नमक खाने से दिल से संबंधित कई बीमारियां हो जाती है. इससे डिहाइड्रेशन की समस्या भी हो सकती है. दरअसल सोडियम की अधिक मात्रा से रक्त प्रभाव बढ़ जाती है, इससे हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है.
-ज्यादा नमक खाने से गुर्दे में पथरी जैसी समस्या भी हो सकती है.इतना ही नहीं मोटापा भी बढ़ता है.
हाई ब्लड प्रेशर को मैनेज करने के 5 उपाय
1. सही तरह का नमक खाएं
सोडियम और पोटेशियम के संतुलन के लिए अपरिष्कृत नमक (हिमालयी गुलाबी नमक) / काला नमक / सेंधा नमक का उपयोग करें. सफेद, आयोडीन युक्त नमक केवल सोडियम देता है पोटेशियम नहीं. इसलिए यह ध्यान रखें कि आप सही नमक का सेवन कर रहे हैं.
2. डिब्बाबंद और प्रोसेस्ड फूड्स से बचें
ये दोनों चीजें वे पोषक तत्वों को अवशोषित और आत्मसात करने की हमारे शरीर की क्षमता को कम करते हैं. ये फूड्स सोडियम को प्रभावित करते हैं. इससे पोटेशियम अनुपात और पानी का संतुलन भी बिगड़ जाता है जो बदले में रक्तचाप पर नकारात्मक प्रभाव डालता है.
3. घर का बना अचार और पापड़ खाएं
पारंपरिक घर के बने अचार में जीवित जीवाणुओं का सिर्फ सही तनाव होता है जो ब्लड प्रेशर को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं. इसी तरह, पापड़ के अपने फायदे हैं. वे विभिन्न दाल / दाल (आमतौर पर प्रोटीन से भरपूर) और कई मसालों जैसे काली मिर्च और जीरा के साथ बनाए जाते हैं. मसाले पापड़ों में एक चिकित्सीय गुण शामिल करते हैं.
4. अच्छी नींद जरूरी है
अपने ब्लड प्रेशर लेवल को मैनेज करने के लिए अच्छी और आरामदायक नींद का आनंद लें. हेल्दी ब्लड प्रेशर बनाए रखने और अन्य लाइफस्टाइल की बीमारियों से बचने के लिए, शरीर को पर्याप्त आराम दें और नींद लें (6-8 घंटे की अच्छी गुणवत्ता की सिफारिश की जाती है). इसके अलावा, ध्यान दें कि सोते और जागते समय को नियंत्रित करना उतना ही महत्वपूर्ण है जितना कि नींद की मात्रा.
5. व्यायाम करने की आदत बनाएं
चलना ब्लड प्रेशर को सामान्य रखने की दिशा में एक महान पहला कदम हो सकता है, लेकिन यह निश्चित रूप से पर्याप्त नहीं है. "एक समग्र व्यायाम जिसमें कार्डियो, स्ट्रेंथ ट्रेनिंग शामिल है, और योग रक्तचाप की दवाओं की जरूरत को रोकने में एक लंबा रास्ता तय करेगा," गरेवाल ने कहा.


Next Story
© All Rights Reserved @Janta Se Rishta
Share it