CG-DPR

सामान्य जीवन जीने के लिए आधारभूत आवश्यकता हो हमारी पहली प्राथमिकता- प्रभारी सचिव

jantaserishta.com
1 May 2022 3:37 AM GMT
सामान्य जीवन जीने के लिए आधारभूत आवश्यकता हो हमारी पहली प्राथमिकता- प्रभारी सचिव
x

सूरजपुर: सूरजपुर जिले के प्रभारी सचिव श्री पी.दयानंद व सरगुजा संभागायुक्त श्री जी. आर. चुरेन्द्र ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में जिला अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। सर्वप्रथम जिला पंचायत सीईओ श्री राहुल देव ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया। तत्पश्चात प्रभारी सचिव ने नव आगन्तुक कलेक्टर सुश्री इफ्फत आरा एवं पुलिस अधीक्षक श्री रामकृष्ण साहू का जिले आगमन पर स्वागत किया और शुभकामनाएं दी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी का आगमन विधानसभा वार दौरा कार्यक्रम है जिसमें वे राज्य शासन की योजनाओं का क्रियान्वयन गांव के अंतिम व्यक्ति तक पहुंच पा रहे है या नहीं। उनकी मंशा है कि धरातल पर कितना योजनाओं का लाभ मिल रहा है। उन्होंने कहा कि लोक सेवा गारंटी अधिनियम अन्तर्गत आने वाले राजस्व मामले खासकर फौती, नामांतरण, बटवारा जैसे प्रकरण लंबित न हो यही प्रयास सबका होना चाहिए।

28 अप्रैल की स्थिति में उन्होंने विभिन्न विभागों की जैसे समय सीमा अन्तर्गत निराकृत किये जाने वाले प्रकरण, थानों में प्राप्त होने वाले आवेदनों, शिकायतों के निराकरण, ले आउट अनुमोदन हेतु प्राप्त आवेदनों का निराकरण, भवन अनुज्ञा अनुमोदन हेतु प्राप्त आवेदनों का निराकरण, लोक सेवा गारंटी अधिनियम अंतर्गत प्राप्त आवेदनों के निराकरण, निकायों की संपत्ति विक्रय से प्राप्त आय की स्थिति, धन्वंतरी मेडिकल स्टोर का संचालन, विद्युत विभाग से सम्बंधित आवेदनों, शिकायतों के निराकरण, स्लम पट्टो पर भूमि स्वामी अधिकार संबंधी आवेदनों के निराकरण, नजूल, कृषि भूमि एवं आबादी पट्टों पर भू स्वामी अधिकार दिये जाने से संबंधित आवेदनों, अवैध निर्माण का नियमितिकरण, अवासीय क्षेत्र के व्यावसायिक उपयोग का नियमितिकरण, शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना की प्रगति, मुख्यमंत्री आगामी खरीफ सीज़न में धान के बदले अन्य फसलों को बढ़ावा की स्थिति, हाट बाजार क्लीनिक योजना की प्रगति की स्थिति, वृक्ष कटाई हेतु प्राप्त आवेदनों के निराकरण की स्थिति, मुख्यमंत्री वृक्षारोपण प्रोत्साहन योजना की प्रगति की स्थिति, सी मार्ट की स्थापना की प्रगति, ग्रामीण औद्योगिक पार्क की स्थापना की प्रगति की स्थिति, चिटफंड घोटालों के पीड़ितों के साथ न्याय, रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की स्थापना की स्थिति, सुपोषण अभियान की प्रगति, नरवा, गरवा, घुरूवा, बाड़ी, धरसा विकास योजना के सम्बंध में, स्वामी आत्मानंद योजना के संचालन की प्रगति, जिले के ऐतिहासिक, संरक्षित स्मारकों एवं पर्यटन स्थलों के रख-रखाव व अनिवार्य आवश्यक जन सुविधाओं, सड़कों के रखरखाव, निर्माण की स्थिति, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना की जानकारी ली। प्रभारी सचिव ने सभी अधिकारियों की हिदायत देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री कुछ भी पूछ सकते है इसलिए सभी अधिकारी अपने विभाग की जानकारी फिंगर टीप्स में रखें। अभी समय है सब तैयारी कर लें।
जिला सीईओ ने नरवा, गरुवा, घुरवा, बाड़ी की जानकारी देते हुए बताया कि 250 गौठानांे में से 125 गौठानों को मॉडल गौठान का रूप दिया गया है। जिनमें अभी बाडी़ विकास, बकरी पालन, मुर्गी पालन, मछली पालन 10 गौठानों में फल की खेती की जा रही है। इन गौठानों में जो महिला समूह काम कर रही है जिनकी संख्या लगभग 290 है। इनके द्वारा लगभग तीन करोड़ की बिक्री किया है।
प्रभारी सचिव ने कहा कि खाद्य विभाग, पंचायत के लोग राशन और पेंशन से लेकर ग्रामीण स्तर पर न केवल मनरेगा किसी विभाग से मजदूरी कराया गया तो उसका भुगतान लंबित न हो। पीएचई विभाग पानी को लेकर, स्वास्थ्य विभाग दवाइयों को लेकर सजग रहे। सीएचसी, पीएचसी में दवाइयों पर्याप्त उपलब्धता रहे। जो बेसिक तैयारी करनी है और हमारी सर्विस डिलीवरी को देखने के लिए कि उन मानदण्डों पर खरा उतर रहा है या नहीं। जिला स्तर के अधिकारी अपने विकासखण्ड अधिकारियों के साथ से डाउन द लाइन हर एक ग्रामवासी से हितग्राही से मिलकर सुनिश्चित करिये किसी भी तरह की कोई बात नहीं आनी चाहिए। सामान्य जीवन जीने के लिए आधारभूत आवश्यकता सहनशील मुद्दे जो आम आदमी को जीन के लिए चाहिए जैसे पीने के लिए, स्वास्थ्य के लिए सामान्य दवाईयां, स्कूल और आंगनबाड़ी में गरम भोजन मिलना, कार्यालयो का समय पर खुलना, हर माह राशन व पेंशन का मिलना। जिला स्तर के अधिकारी के अलावा अन्य अधिकारियों को समन्वय बनाकर कार्य करना है। जैसे ही आपको खबर मिलेगा उसी कम समय में ग्राउण्ड स्तर पर तैयारी भी करना है। उसके साथ ही जिले की जो भी उल्लेखनीय उपलब्धियों को बताने के तथा उसे अच्छे से प्रस्तुत करने आवश्यकता है। संभाग आयुक्त ने सभी को अपने काम बड़ी गम्भीरता से करने की सलाह दी। साथ ही पानी पीने के हैण्डपम्प, स्वास्थ्य के लिए दवाईयां, बच्चों के विभिन्न प्रकार प्रमाण पत्र जो बनने है उन पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। इन सब कार्यो पर किसी प्रकार लंबित प्रकरण न रहें। सभी अधिकारी यह सुनिश्चित कर ले। इस दौरान संयुक्त कलेक्टर शिव बनर्जी, एडिशनल एसपी हरीश राठौर, डिप्टी कलेक्टर वहीदुर्ररहमान, एसडीएम रवि सिंह, प्रकाश सिंह राजपूत, श्रीमती दीपिका नेताम, सीएमएचओ डॉ. आर.एस. सिंह सहित जिले समस्त विभाग के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta