CG-DPR

प्राकृतिक खेती स्वस्थ एवं सुखी जीवन का आधार-सांसद गोमती साय

jantaserishta.com
28 April 2022 3:09 AM GMT
प्राकृतिक खेती स्वस्थ एवं सुखी जीवन का आधार-सांसद गोमती साय
x

रायगढ़: आजादी के अमृत महोत्सव के अंतर्गत सांसद श्रीमती गोमती साय के मुख्य आतिथ्य में कृषि विज्ञान केन्द्र रायगढ़ परिसर में प्राकृतिक खेती पर आधारित एक दिवसीय किसान मेला एवं कृषि प्रदर्शनी कार्यक्रम का आयोजन किया गया। सांसद श्रीमती साय ने कृषि विज्ञान केन्द्र प्रांगण में उन्नत किसानों द्वारा लगाये गए उत्कृष्ट कृषि उत्पादों की प्रदर्शनी का उद्घाटन करते हुए कृषकों की प्रशंसा की।

कृषि विज्ञान केन्द्र रायगढ़ परिसर में कृषि विज्ञान केन्द्र रायगढ़, उप-संचालक (आत्मा परियोजना) एवं उद्यानिकी विभाग रायगढ़ के संयुक्त तत्वधान में आयोजित कार्यक्रम में 300 से अधिक किसान उपस्थित रहे। श्रीमती साय ने कृषकों को मार्गदर्शन देते हुए कहा की किसान ही धरती का असली अन्नदाता है एवं उसी के मेहनत से हम सब फल फुल रहे है। देश के प्रधानमंत्री किसानों के हित में अनेक योजनायें ला रहे है जिससे देश की अर्थव्यवस्था मजबूत हो रही है। उन्होंने कहा की किसानों को कृषि विज्ञान केन्द्र में वैज्ञानिकों के द्वारा प्रशिक्षण, प्रयोग एवं अनुसंधान कार्यो के परिणामों के अनुसार ही खेती करनी चाहिये एवं वैज्ञानिक के दिशा-निर्देश में कृषि तकनीकोंं को अपनाना चाहिए। उन्होंने रायगढ़ के वैज्ञानिकों की तारीफ करते हुए कहा की किसानों की आमदनी बढऩे में कृषि वैज्ञानिकों की अहम भूमिका है।
सांसद श्रीमती साय ने जिले के 15 विभिन्न कृषि क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले कृषकों को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया। कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केंद्र रायगढ़ के अधिष्ठाता डॉ.ए.के.सिंह ने स्वागत उद्बोधन प्रस्तुत किया। केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं प्रमुख इजी.श्री आर.के.स्वर्णकार ने कृषि विज्ञान केन्द्र रायगढ़ की विभिन्न गतिविधियों एवं उपलब्धियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा की केंद्र के वैज्ञानिकों के प्रयास से विभिन्न किसान संगठन, स्व-सहायता समूह एवं गोठान समितियों को जैविक खेती, प्राकृतिक खेती एवं समन्वित खेती को बढ़ावा दिया जा रहा है। कार्यक्रम का संचालन केन्द्र के मृदा वैज्ञानिक डॉ.के.डी.महंत ने किया। कार्यक्रम में कृषि विज्ञान के समस्त वैज्ञानिक डॉ.मनीषा चौधरी, डॉ.के.के.पैकरा,डॉ.के.डी.महंत,डॉ.एन.सी.बंजारा, डॉ.सी.पी.एस.सोलंकी, डॉ.एन.के.पटेल, इजी.श्री आशुतोष सिंह एवं कृषि महाविद्यालय एवं अनुसंधान केंद्र रायगढ़ के समस्त वैज्ञानिकों द्वारा तकनीकी उद्बोधन दिया गया। साथ ही कृषि विभाग, उद्यानिकी विभाग, मछली पालन विभाग, पशु विभाग एवं कृषि अभियांत्रिकी विभाग तथा आकाशवाणी के अधिकारियों ने विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी एवं प्रगतिशील महिला कृषक श्रीमती उर्मिला सिदार, राज्य स्तरीय पुरुष्कृत कृषक श्री मुकेश चौधरी, श्री दादूराम चंद्रा, श्री सीताराम पटेल ने अपनी सफलता की कहानी प्रस्तुत की। उपस्थित कृषक समुदाय को कृषि तकनीक बुलेटिन एवं साहित्य वितरण किया गया। इस कार्यक्रम के सफलता में श्री विकास महंत, ज्ञानेंद्र चंद्रा, श्री सुकलाल, उषा बरेठ, सुनैना कुरुवंशी का विशेष योगदान रहा।

Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta