CG-DPR

कलेक्टर ने पंडरीपानी के नर्सरी का किया औचक निरीक्षण

jantaserishta.com
25 March 2022 3:19 AM GMT
कलेक्टर ने पंडरीपानी के नर्सरी का किया औचक निरीक्षण
x

कोरबा: कलेक्टर रानू साहू ने आज अनुविभाग कटघोरा के अन्तर्गत ग्राम पंडरीपानी में पहुंचकर नर्सरी का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने नर्सरी में सीडलिंग प्लांट यूनिट और बीज, खाद मशीनरी आदि के गोदामों का अवलोकन किया। कलेक्टर श्रीमती साहू ने नर्सरी में सिडलिंग प्लांट के लिए स्थापित किए गए मशीनों के सुचारू रूप से संचालन नहीं होने और खाद-बीज के अव्यवस्थित भंडारण पर नाराजगी जताते हुए उद्यान अधीक्षक को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश मौके पर ही दिए। उन्होंने सीडलिंग यूनिट के परिसर में मिर्च, टमाटर, लौकी आदि के लगाए गए नर्सरी का जायजा लिया तथा सिडलिंग प्लांट यूनिट से एनआरएलएम के माध्यम से समूह की महिलाओं को जोड़कर फसल उत्पादन करने की कार्ययोजना भी बनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्रीमती साहू ने कटघोरा प्रवास के दौरान ग्राम तेलसरा के आंगनबाड़ी केन्द्र का भी औचक निरीक्षण किया। उन्होंने आंगनबाड़ी केन्द्र में पहुंचकर बच्चों और उनकी माताओं से मुलाकात की। कलेक्टर ने आंगनबाड़ी में आये हितग्राहियों को सुपोषण टोकरी का भी वितरण किया। उन्होंने केन्द्र प्रभारी से कुपोषित बच्चों की जानकारी ली। साथ ही बच्चों को सुपोषित करने की कार्य योजना के बारे में भी पूछा। कलेक्टर श्रीमती साहू ने इस दौरान छह माह की शिशु काव्या और वेदांत को अन्नप्राशन भी कराया। उन्होंने केन्द्र में आये बच्चों को बिस्किट और चाकलेट का वितरण किया। कलेक्टर ने तेलसरा में निर्माणाधीन नवीन आंगनबाड़ी भवन के कार्य को जल्द पूरा करने के भी निर्देश दिए। इस दौरान जिला पंचायत के सीईओ श्री नूतन कंवर, एसडीएम कटघोरा श्री कौशल प्रसाद तेन्दुलकर, जनपद पंचायत कटघोरा के सीईओ श्री व्ही.के.राठौर सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।

कलेक्टर ने मनरेगा से बन रहे कुआं का किया निरीक्षण- कलेक्टर श्रीमती साहू ने ग्राम तेलसरा में मनरेगा के माध्यम से श्रीमती मतबाई के बाड़ी में बन रहे कुएं का भी निरीक्षण किया। उन्होंने कुआं निर्माण कार्य की जानकारी और निर्माण पूर्ण होने की अवधि के बारे में भी पूछा। कलेक्टर ने हितग्राही श्रीमती मतबाई से भी बात की। उन्होंने कुआं निर्माण के पश्चात कुएं के पानी के उपयोग के बारे में पूछा। हितग्राही ने मनरेगा के माध्यम से निःशुल्क बन रहे कुएं के पानी का उपयोग सब्जी और फसल उत्पादन में करने की जानकारी दी। उन्होने कलेक्टर को बताया कि कुंआ निर्माण के लिए पैसे खर्च करने की जरूरत नहीं पड़ी। मनरेगा के माध्यम से निःशुल्क में कुआं का निर्माण हो रहा है। साथ ही कुआं निर्माण में लगे मजदूरों को मनरेगा के माध्यम से काम भी मिल रहा है।
कलेक्टर श्रीमती साहू ने ढेलवाडीह में उप स्वास्थ्य केन्द्र और शासकीय उचित मूल्य की दुकान का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने राशन दुकान में पहुंचकर ग्रामीणों को दिये जा रहे खाद्य सामग्री चावल, शक्कर, नमक आदि की वितरण की जानकारी दुकान प्रभारी से ली। उन्होंने राशन दुकान में खाद्य सामग्री लेने आए ग्रामीणों से बात की और राशन की गुणवत्ता तथा समय पर राशन मिलने के बारे में जानकारी ली। उन्होंने दुकान प्रभारी को समय पर हितग्राहियों को सही गुणवत्ता के खाद्य सामग्रियों का वितरण सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्रीमती साहू ने शासकीय राशन दुकान ढेलवाडीह के औचक निरीक्षण के दौरान ग्रामीणों को वितरण किए जाने वाले चावल, चना, शक्कर, नमक आदि के स्टॉक को भी देखा। उन्होंने राशन दुकान तक आने में असमर्थ बुजुर्ग हितग्राहियों को राशन पहुंचाने के लिए नॉमिनी नियुक्त करने के निर्देश दिए। जिससे बुजुर्गों को राशन दुकान तक आना नहीं पड़ेगा और उनके राशन को नॉमिनी के द्वारा उठाव कर हितग्राही बुजुर्ग तक पहुंचाया जा सकेगा।
कलेक्टर श्रीमती साहू ने ढेलवाडीह में उप स्वास्थ्य केन्द्र का भी निरीक्षण किया। उन्होंने उप स्वास्थ्य केंद्र में पहुंच कर अस्पताल की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। उन्होंने मरीजों के इलाज के लिए सुनिश्चित की गई व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। उन्होंने मरीजों के ईलाज के लिए उपयोग में लाये जाने वाले दवाईयों के स्टोर रूम का भी जायजा लिया। कलेक्टर ने स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती ग्राम ढपढप की निवासी श्रीमती सोनिया से बात की। सोनिया ने सामान्य प्रसव से पुत्र को जन्म दिया है। कलेक्टर ने सोनिया और उनके पुत्र के तबियत के बारे में हाल-चाल पूछा और दोनों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए शुभकामनाएं दी। इस दौरान जिला पंचायत के सीईओ श्री नूतन कंवर, एसडीएम कटघोरा श्री कौशल प्रसाद तेन्दुलकर, जनपद पंचायत कटघोरा के सीईओ श्री व्ही.के.राठौर सहित अन्य अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।
कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने आज अनुविभाग कटघोरा प्रवास के दौरान कृषि विज्ञान केन्द्र कटघोरा का आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने कृषि विज्ञान केन्द्र में संचालित किए जा रहे गतिविधियों जैसे धान, गेहूं, सब्जी उत्पादन और पशुपालन की जानकारी मौजूद अधिकारियों से ली। कलेक्टर श्रीमती साहू ने कटघोरा और पोड़ीउपरोड़ा के क्षेत्रों में वृहद स्तर पर पलाश पेड़ मौजुद होेने के फलस्वरूप पलाश पेड़ का उपयोग लाख उत्पादन के लिए करने के कार्य योजना बनाने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने कृषि विज्ञान केंद्र के अधिकारियों से लाख उत्पादन की विस्तृत जानकारी ली। साथ ही स्वसहायता समूह की महिलाओं का चिन्हांकन कर पलाश पेड़ में लाख उत्पादन करवाने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने लाख उत्पादन के लिए पलाश वृक्ष एवं महिला समूहों के चिन्हांकन भी करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। उन्होंने पलाश पेड़ की अधिकता वाले क्षेत्रों में क्लस्टरवार सर्वे कर हितग्राही चिन्हाकन करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने इस दौरान कृषि विज्ञान केन्द्र के अधिकारियों को उन्नत किस्म की नये फसलों पर अनुसंधान कर किसानों को लाभान्वित करने के भी निर्देश दिए। इस दौरान जिला पंचायत के सीईओ श्री नूतन कंवर, एसडीएम कटघोरा श्री कौशल प्रसाद तेन्दुलकर, कृषि विज्ञान केन्द्र के विशेषज्ञों सहित जनपद पंचायत कटघोरा के सीईओ श्री व्ही.के.राठौर और अन्य अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।
कलेक्टर ने कटघोरा एसडीएम कार्यालय में अधिकारी-कर्मचारियों की ली समीक्षा बैठक, लंबित प्रकरणों के निराकरण के दिए निर्देश- कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने कटघोरा प्रवास के दौरान एसडीएम कार्यालय का निरीक्षण किया। साथ ही एसडीएम कार्यालय में विकासखंड स्तरीय अधिकारी-कर्मचारियों की समीक्षा बैठक भी ली। उन्होंने एसडीएम श्री कौशल प्रसाद तेन्दुलकर से लंबित राजस्व प्रकरणों की जानकारी ली। उन्होंने आरआई और पटवारी प्रतिवेदन के लिए लंबित राजस्व प्रकरणों को तत्काल निराकरण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्रीमती साहू ने समीक्षा बैठक में अधिकारी-कर्मचारियों को गांववार लंबित प्रकरणों की सूची बनाकर समय सीमा में प्रकरणों को निराकृत करने के लिए कहा। उन्होंने मैदानी अमलों को सक्रिय होकर काम करने और नागरिकों को शासकीय योजनाओं से लाभान्वित करने के लिए भी निर्देशित किया। उन्होंने क्लस्टरवार सचिव, पटवारी एवं अन्य कर्मचारियों की ड्यूटी लगाकर नागरिकों की समस्याओं को हल करने के निर्देश दिए। राशन, पेंशन, दिव्यांगता प्रमाण पत्र, सीमांकन, नामांतरण आदि से संबंधित नागरिकों की समस्याओं को विभागवार अधिकारी-कर्मचारियांे की ड्यूटी लगाकर निराकृत करने के भी निर्देश दिए। कलेक्टर ने बैठक में दिव्यांगता प्रमाण पत्र जारी किये जा चुके दिव्यांगजनांे को राशन, पेंशन आदि सुविधाओं का लाभ सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि पटवारियों के पास ऑफलाइन आवेदन लंबित नहीं होने चाहिए। आवेदनों का ऑनलाइन दुरूस्तीकरण सुनिश्चित किया जाये। बैठक में कलेक्टर ने मछली पालन विभाग के अधिकारियों को अधिक से अधिक मछली पालक किसानों को मछली पालन व्यवसाय से जोड़ने के निर्देश दिए। इसी प्रकार कृषि विभाग के अधिकारियों को किसानों को सहकारी समितियों से जोड़कर क्रेडिट कार्ड आदि सुविधाओं का भी लाभ सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए।
कलेक्टर श्रीमती साहू ने कटघोरा के नान गोदाम का किया निरीक्षण- कलेक्टर श्रीमती रानू साहू ने कटघोरा प्रवास के दौरान कटघोरा स्थित नागरिक आपूर्ति निगम के भण्डार गृह का निरीक्षण किया। उन्होंने चावल, चना आदि के भण्डारण का अवलोकन किया। कलेक्टर ने फोर्टीफाईड चावल के भण्डारण और उसके वितरण की भी जानकारी जिला नान प्रबंधक से ली। नान प्रबंधक ने बताया कि अप्रेल 2022 से सार्वजनिक वितरण प्रणाली योजना के तहत फोर्टीफाईड चावल का वितरण किया जायेगा। फोर्टीफाईड चावल में आवश्यक विटामिन, मिनरल्स एवं अन्य आवश्यक पोषक तत्व मौजूद है। फोर्टीफाईड चावल पौष्टिक तत्वों की पूर्ति के साथ कुपोषण के नियंत्रण में मददगार होता है। 100 किलोग्राम सामान्य चावल में एक किलोग्राम फोर्टीफाईड चावल मिलाया जाता है। कलेक्टर श्रीमती साहू ने एसडीएम कटघोरा को हर हफ्ते टीम भेजकर सामान्य चावल में फोर्टीफाईड चावल के सही अनुपात मिलाने की सेंपलिंग करने के निर्देश दिए। उन्होंने शासन द्वारा निर्धारित अनुपात की जांच क्वालिटी इंसपेक्टर की मौजूदगी में करने और सेंपलिंग जांच की वीडियोग्राफी भी कराने के निर्देश दिए। इस दौरान जिला पंचायत के सीईओ श्री नूतन कंवर, एसडीएम कटघोरा श्री कौशल प्रसाद तेन्दुलकर, जिला नान प्रबंधक श्रीमती हेलेना तिग्गा, सहित जनपद पंचायत कटघोरा के सीईओ श्री व्ही.के.राठौर और अन्य अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहे।
Next Story
© All Rights Reserved @ 2022Janta Se Rishta