रात के समय ढ़ीले कपड़े पहनकर सोना फायदेमंद साबित होता है

0

 जनता से रिश्ता / वेबडेस्क ज्यादातर लोग सर्दियों में रात को सोते समय बहुत ज्यादा कपड़े पहनकर सोते हैं। गर्मियों में भी रात कुर्ता पाजामा पहनना एक आम बात हैं। लेकिन विशेषज्ञों की माने तो ज्यादा कपड़ें पहनकर सोना आपके लिए हानिकारक हो सकता है। विशेषज्ञों की राय है कि रात को तंग वस्त्र पहनकर सोने से कई तरह की शारीरिक समस्याओं का जन्म होता है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि बिना कपड़ों के सोना, या फिर ढ़ीले और सूती वस्त्रों में सोना सबसे बेहतर माना जा सकता है।एक्सपर्ट्स का कहना है कि रात में कपड़ों से शरीर को कम आराम मिलता है। तंग कपड़ों में कई तरह के जीवाणु उत्पन्न होने लगते हैं। बिना कपड़ों में सोने से इस तरह के बैक्टीरिया संक्रमण का खतरा काफी कम हो जाता है। आपको बता दे कि पसीने वाली शरीर में सबसे ज्यादा बैक्टीरिया पनपते हैं। इस शोध में यह तथ्य भी सामने आया है कि महिलाओं के मुकाबले पुरुषों में यह समस्या ज्यादा पाई जाती है। हालांकि इस शोध में एक चौंकाने वाला खुलासा भी हुआ है, कि इससे पुरुषों की प्रजनन क्षमता प्रभावित होती है।

न्यूयॉर्क में महिला चिकित्सक के रूप में काम करने वाली डॉ अलिसा की माने तो हमेशा रात को बिना कपड़ों के ही सोना चाहिए। ज्यादा कपड़ों में सोने से शरीर के अंदरूनी अंगों का पसीना सूख नहीं पाता है। वहां हमेशा नमी बनी रहती है, जिस वज़ह से जीवाणुओं को और ज्यादा पनपने का मौका मिल जाता है। नमी के कारण कवक भी पैदा होने लगते हैं। इस समस्या से झुंझलाहट, चिढ़ होने के साथ ही त्वचा में संक्रमण की शिकायत भी रहने लग जाती है।डॉ अलिसा के अनुसार रात के समय ढीले ढाले सूती कपड़े कम से कम पहनकर सोना चाहिए। हालांकि शुरूआत में रात में बिना कपड़े सोना किसी को भी अजीब लग सकता है। लेकिन यह लंबे समय के लिये काफी अच्छे परिणाम देता है। एक सर्वे के अनुसार ब्राजील में काफी खुले विचारों वाला समाज है फिर भी वहां 18 फीसदी महिलाएं ही बिना वस्त्रों के सोती हैं। हालांकि यह आंकड़ा ब्रिटेन के मुकाबले काफी कम है।